पाखंडी और दुराचारी बाबा राम रहीम के 10 छिपे हुए बड़े राज़!!!

  1. बाबा राम रहीम कामवासना के माने हुए और धुरंदर खिलाड़ी थे। काम में हमेशा लिप्त रहना उन्हें बहुत भाता था और यही कारण था की उनका डेरा धार्मिक डेरा कम और अयाशी का अड्डा ज्यादा था। उस डेरे को अगर देह व्यापार का ‘कोठा’ भी कहा जाए तो कुछ गलत न होगा। बाबा जानता था कि कैसे कम उम्र की मासूम साध्वियों का शारीरिक और मानसिक शोषण किया जाता है और जो वह अक्सर किया करता था। इस घिनोने काम को करने के लिए उसने सिरसा में अपने डेरे के अंदर एक आलिशान और रहस्मयी गुफा बना रखी थी जिसके अंदर सिर्फ वह खुद या उसके बहुत ही करीबी सेवादार जा सकते थे। गुफा के अंदर वह सब कुछ था जिसकी आम इंसान कलपना भी नहीं कर सकता।
  2. अगर कोई डेरे का भक्त या सेवादार बागी हो जाता या डेरे के खिलाफ अपनी आवाज़ उठाता तो उसे या तो मरवा देना ही बेहतर समझा जाता था या उसे कहीं गायब करा दिया जाता था।
  3. डेरे में से निकले हुए सेवादारों कि माने तो डेरे में स्कूल की छोटी छोटी बच्चिओं से अपनी आज तक की सारी गलतियों को कबूल करते हुए एक चिट्ठी लिखवाई जाती थी और बाद में इन्हीं मासूम बच्चियों में से कुछ लड़कियां चुनी जाती थी और बाबा या उसके अनुनायिओं द्वाराउनका शारीरिक शोषण धड़ल्ले से किया जाता था।
  4. यह सुनकर तो आपके होश उड़ जायेंगे कि एक बलात्कारी और पाखंडी बाबा जिसे सामाज अपना कर राजी नहीं वह Padma Awards पाने का भूखा भी था। Padma Awards लेने के लिए बाबा ने बड़ी चालाकी और मक्कारी से अपने ही भक्तों से 4208 बार ग्रह मंत्रालय से सिफारिशें करवायीं जो बाद में खारिज भी की गयीं।
  5. हद तो तब हो गयी जब डेरे में भोले भाले भक्तों को अंगदान जैसे महान काम के नाम पर भी बड़ी बेदर्दी से ठग्गा गया। अंगदान के बहाने उनके अंग बाजार में अच्छे दाम पर बेचना तो डेरे में एक प्रथा बन गयी थी। न जाने इस बाबा ने धर्म और भगवान के नाम कि दुहाई दे कर कितने गरीब लोगों के अंग निकलवा दिए होंगे।
  6. बाबा के ख़ास या करीबी लोगों को छूट होती थी कि वह डेरे में जो चाहें वो कर सकते थे – कुछ भी, जो भी उनका दिल चाहे।
  7. यह तो सब जानते हैं कि डेरे में किसी को भी अपनी गोद लई हुई पुत्री या बहन बना कर उसका शारीरिक शोषण करना तो आम बात थी। उसकी दत्तक या गोद लई हुई पुत्री Honeypreet Kaur पर भी अब पुलिस कि नज़र है।
  8. बाबा राम रहीम के डेरे में उसके नाम कि currency चलती थी। अगर किसी को अपनी दैनिक जरूरतों का सामान या कुछ भी चाहिए होता तो वह बाबा राम रहीम के नाम का सिक्का दिखा कर बड़े आराम से ले सकता था।
  9. बाबा की गिरफ्तारी के बाद जब उसके डेरे में पुलिस की raids पड़ी तो वहाँ पर बड़ी मात्रा में contraceptives और condoms बरामद हुए। सवाल यह उठता है कि आखिर वह बाबा था या कोई sex racket का king?
  10. बाबा को जब भी कामवासना की पूर्ती करनी होती तो वह यह कहकर अपनी साध्विओं से दुष्कर्म करता था की यह उसकी ‘माफ़ी’ है। अपनी साध्विओं को वह यह कह कर दुष्कर्म करने के लिए उकसाता था कि उनका मन, तन, और धन अब उसका हो चुका है क्युंकि वह उनका भगवान् है और भगवान् को कभी भी नाराज नहीं करना चाहिए।

Leave a Reply